Raat mei sone se pehle ki foods ko avoid karein,- रात में सोने से पहले किन फूड्स को अवॉइड करें

कुछ खाद्य पदार्थ आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर होते हैं यदि आप उन्हें सुबह या दोपहर में खाते हैं। लेकिन जब आप रात में वही खाना खाते हैं, तो वे आपकी नींद की गुणवत्ता को …

कुछ खाद्य पदार्थ आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर होते हैं यदि आप उन्हें सुबह या दोपहर में खाते हैं। लेकिन जब आप रात में वही खाना खाते हैं, तो वे आपकी नींद की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकते हैं।

रात में कई घंटों तक नींद न आना या नींद के दौरान बार-बार जागना कई तरह की समस्याओं का संकेत हो सकता है। नतीजतन, हृदय रोग, मधुमेह और तनाव का खतरा बढ़ जाता है। आपने ज्यादातर लोगों को ये कहते हुए सुना होगा कि रात के खाने में सिर्फ रात को ही रोशनी करनी चाहिए। जैसे दिन की शुरुआत हल्के नाश्ते से करना. इसी तरह रात को सोने से पहले हल्का खाना खाने से भी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का खतरा कम हो सकता है। इसके अलावा, नींद की गुणवत्ता में भी सुधार हो सकता है। जानें कि रात को सोने से पहले किन खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए (ऐसे खाद्य पदार्थ जो नींद में बाधा डालते हैं),,

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के मुताबिक, रात की अच्छी नींद शरीर में कई बीमारियों का खतरा अपने आप कम कर देती है। पर्याप्त नींद लेने से न केवल आपका मस्तिष्क स्वस्थ रहता है, बल्कि यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत रखता है। रात को सोने से 3 से 4 घंटे पहले कुछ खाना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है और इससे आपकी नींद की गुणवत्ता भी बेहतर हो सकती है।

स्लीप फाउंडेशन के शोध के अनुसार, रात को सोने से पहले पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने से आपके शरीर पर सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। इससे नींद की गुणवत्ता में सुधार होता है और शरीर की ऊर्जा बरकरार रहती है। आहार विशेषज्ञ मनीषा गोयल का कहना है कि देर रात चिकनाईयुक्त खाना खाने से न सिर्फ नींद में खलल पड़ता है बल्कि वजन बढ़ने का खतरा भी बढ़ जाता है। ऐसे में सोने से 2 से 3 घंटे पहले खाना खाएं।

जंक फूड न सिर्फ आपकी सेहत के लिए अच्छा है, बल्कि यह आपकी त्वचा को भी नुकसान पहुंचा सकता है।
जंक फूड न सिर्फ आपकी सेहत बल्कि आपकी त्वचा के लिए भी हानिकारक है। छवि स्रोत: एडोब स्टॉक

रात को सोने से पहले किन खाद्य पदार्थों से बचें

1. किसी भी प्रकार की कॉफ़ी

ज्यादातर लोग रात को सोने से पहले कॉफी पीना पसंद करते हैं। लेकिन रात को सोने से पहले कॉफी पीने से नींद की गुणवत्ता कम हो जाएगी। दरअसल, कॉफी में मौजूद कैफीन शरीर की सतर्कता बढ़ा सकता है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार, कॉफी पीने से कैफीन का उत्तेजक प्रभाव तीन से पांच घंटे तक रह सकता है। ऐसे में सोने से करीब छह घंटे पहले कॉफी पिएं।

यह भी पढ़ें

इन 6 फायदों को पाने के लिए आपको पान के पत्तों को भी अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए और आप इन 7 तरीकों को आजमा सकते हैं।

जर्नल ऑफ क्लिनिकल स्लीप मेडिसिन के अनुसार, सोने से पहले कॉफी पीने से नींद की कमी और चिंता बढ़ सकती है। दरअसल, बहुत अधिक कॉफी पीने से शरीर में कोर्टिसोल का स्तर बढ़ सकता है, जिससे तनाव बढ़ सकता है।

2. प्रोटीनयुक्त भोजन

सोने से पहले प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ खाने से आपका पाचन तंत्र धीमा हो सकता है। दरअसल, इसे पचाने में 4 से 6 घंटे का समय लगता है। परिणामस्वरूप अनिद्रा की समस्या बनी रहती है और वजन बढ़ने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए, सोने से पहले लाल मांस, चिकन, पनीर, अंडे और नट्स से बचें। टायरोसिन प्रोटीन में पाया जाता है और मस्तिष्क को सचेत कर सकता है। देर रात इसके सेवन से हृदय संबंधी समस्याएं और मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है।

प्रोटीन खाद्य पदार्थों की आवश्यकता समस्याएँ पैदा कर सकती है।
सोने से पहले लाल मांस, चिकन, पनीर, अंडे और नट्स से बचें। छवि स्रोत: एडोब स्टॉक

3. फाइबर युक्त आहार

फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ चयापचय को बढ़ावा देते हैं। साथ ही इन्हें रात में खाने से एसिडिटी, सूजन और पेट दर्द की समस्या भी हो सकती है। अधिकांश लोग रात के खाने में अपने बड़े भोजन की जगह फल, सलाद और अंकुरित अनाज लेते हैं। लेकिन इन्हें खाकर तुरंत बिस्तर पर जाने से पाचन तंत्र पर असर पड़ सकता है। इसके अलावा लोगों को अनिद्रा की समस्या का भी सामना करना पड़ता है।

4. खट्टे फलों का रस

विटामिन सी से भरपूर नींबू, संतरा और टमाटर खाने से नींद पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। इसमें मौजूद टायरामाइन एक एमिनो एसिड है जो दिमाग को एक्टिव बनाकर नींद की समस्या को बढ़ाता है। सोने से पहले खट्टे फल खाने से शरीर में अम्लीय पदार्थ बनने लगते हैं, एसिडिटी बढ़ने लगती है और जलन की समस्या होने लगती है।

नींद न आने की समस्या का समाधान कैसे करें?
अगर आप सलाद में गाजर, खीरा, ककड़ी और तरबूज का सेवन करते हैं तो आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। छवि स्रोत: एडोब स्टॉक

5. गाजर, खीरा, ककड़ी, तरबूज़ आदि।

ज्यादातर लोग रात के खाने में सलाद का आनंद लेते हैं। अगर आप सलाद में गाजर, खीरा, ककड़ी और तरबूज का सेवन करते हैं तो आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। पेशाब को नियंत्रित करने के लिए इसे सोने से कुछ घंटे पहले लें। इसलिए लोगों को अनिद्रा की समस्या का सामना करना पड़ता है। ये मूत्रवर्धक खाद्य पदार्थ हैं जो आपकी नींद में खलल डाल सकते हैं। इसलिए लोगों को रात के समय इन्हें खाने से बचना चाहिए।

ये भी पढ़ें- यह मूली की चटनी पाचन में सुधार करती है और प्रतिरक्षा बढ़ाती है, इस पारंपरिक और स्वादिष्ट रेसिपी को आज़माएँ।

Leave a Comment