Neckline wrinkles : मोबाइल और गैजेट्स बढ़ा रहे हैं आपकी गर्दन में झुर्रियां, जानिए इनसे कैसे बचना है

गर्दन की त्वचा बहुत पतली और लचीली होती है। इस तरह आपकी गर्दन सामान्य रूप से चल सकती है। लेकिन लगातार एक ही स्थिति में गर्दन झुकाकर काम करने से झुर्रियां बढ़ सकती हैं (टिप्स …

गर्दन की त्वचा बहुत पतली और लचीली होती है। इस तरह आपकी गर्दन सामान्य रूप से चल सकती है। लेकिन लगातार एक ही स्थिति में गर्दन झुकाकर काम करने से झुर्रियां बढ़ सकती हैं (टिप्स टू प्रिवेंट नेक रिंकल्स)।

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, चेहरे पर महीन रेखाएं दिखने लगती हैं और गर्दन की लोच कम होने लगती है। धीरे-धीरे, गर्दन की लोचदार त्वचा पतली होने लगती है और गर्दन की रेखा के आसपास झुर्रियाँ बनने लगती हैं। काम का तनाव और गर्दन झुकाकर किया गया काम इस समस्या को बढ़ा सकता है। गर्दन की झुर्रियों से बचने के लिए अपनी जीवनशैली में बदलाव करते हुए कुछ बातों पर ध्यान देना जरूरी है। गर्दन की रेखाओं और झुर्रियों को रोकने के लिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं।


झुर्रियाँ नेकलाइन से क्यों शुरू होती हैं (नेकलाइन झुर्रियों के कारण)

जीवनशैली और आनुवंशिकी सहित विभिन्न कारणों से झुर्रियों की समस्या बढ़ रही है। कुछ लोगों की आंखों के आसपास कौवा के पैर विकसित हो जाते हैं, जबकि अन्य लोगों के चेहरे पर हंसी की रेखाएं विकसित हो जाती हैं। इसके अलावा, कुछ लोग अपनी गर्दन पर निशान छोड़ देंगे। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के मुताबिक, धूम्रपान और पराबैंगनी किरणों के प्रभाव से उम्र बढ़ने का खतरा तेजी से बढ़ता है। इसके अलावा जो लोग लंबे समय तक एक ही मुद्रा में काम करने के आदी हैं, उनमें गर्दन की झुर्रियों की समस्या भी बढ़ जाएगी।

जानें इससे कैसे बचें (गर्दन की झुर्रियों को रोकने के टिप्स)

1. विटामिन सी सार

विटामिन सी त्वचा को मुलायम और लोचदार बनाए रखने में मदद करता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट आपके चेहरे की त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। एनआईएच के एक अध्ययन के मुताबिक, विटामिन सी के इस्तेमाल से फ्री रेडिकल्स की समस्या को दूर किया जा सकता है। यूवी क्षति को खत्म करने के लिए 3 महीने तक विटामिन सी का उपयोग करें। इससे झुर्रियों की समस्या को दूर किया जा सकता है।


विटामिन सी के फायदे
विटामिन सी के प्रयोग से फ्री रेडिकल्स की समस्या को दूर किया जा सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

2. सनस्क्रीन से परहेज न करें

धूल, मिट्टी और धूप के संपर्क में आने से त्वचा पर महीन रेखाएं दिखाई देने लगती हैं। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के 2013 के एक अध्ययन के अनुसार, वैज्ञानिक रूप से बढ़ती उम्र से छुटकारा पाने के लिए हर दिन अपने चेहरे पर सनस्क्रीन लगाएं। पूरे दिन हर 3 से 4 घंटे में अपने चेहरे पर एसपीएफ़ 30 सनस्क्रीन लगाएं। इससे चेहरे की त्वचा मुलायम होती है और लचीलापन बढ़ता है।

यह भी पढ़ें

स्व-प्रेम प्रतिज्ञान: वैलेंटाइन डे से पहले अपने प्रति प्यार और सम्मान दिखाने के लिए इन 10 तरीकों का उपयोग करें।

3. मॉइस्चराइजर का प्रयोग करें

अपनी त्वचा की लोच बनाए रखने के लिए मॉइस्चराइज़र का प्रयोग करें। 2014 के एनआईएच अध्ययन में पाया गया कि चेहरे पर हयालूरोनिक एसिड युक्त मॉइस्चराइज़र लगाने की सलाह दी जाती है। इसके इस्तेमाल से आप अपनी गर्दन पर दिखने वाली रेखाओं को नियंत्रित कर सकते हैं।

गर्दन की झुर्रियों के कारण
गर्दन के टेढ़ेपन के कारण भी ये रेखाएं गर्दन पर दिखाई दे सकती हैं। छवि – एडोब स्टॉक

4. रेटिनोइड क्रीम लगाएं

विटामिन ए से भरपूर रेटिनॉल त्वचा की लोच बनाए रखने में मदद करता है। शुष्क त्वचा को कम करने के लिए इस एंटी-एजिंग एजेंट को अपने चेहरे पर लगाएं। उपयोग से पहले पैच परीक्षण करें और थोड़ी मात्रा अपने चेहरे पर लगाएं। इससे त्वचा की दृढ़ता बढ़ती है।


ये बातें भी याद रखें

1.धूम्रपान न करें

आपकी त्वचा की लोच बनाए रखने के लिए धूम्रपान से बचना बहुत महत्वपूर्ण है। इसमें मौजूद निकोटीन कोलेजन की मात्रा को कम करता है और शरीर में ऑक्सीजन के स्तर को कम करता है। नतीजा यह होता है कि त्वचा पर झुर्रियां पड़ने लगती हैं।

2. अपने आप को अधिक देर तक धूप में न रखें

बिना सुरक्षा के लंबे समय तक धूप में रहने से त्वचा पर धब्बे और झुर्रियाँ पड़ सकती हैं। समय से पहले झुर्रियों से बचने के लिए तेज धूप के संपर्क में आने से बचें। इसलिए त्वचा कोशिका क्षति का खतरा होता है।

3. मोबाइल फोन के इस्तेमाल से बचें

लंबे समय तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते समय गर्दन झुकाए रखने की आदत से गर्दन की झुर्रियों की समस्या बढ़ जाएगी। ऐसा करने के लिए अपनी गर्दन को एक दिशा में न रखें, बल्कि मूवमेंट पर ध्यान केंद्रित करें। परिणामस्वरूप गर्दन में बढ़ी हुई अकड़न कम होने लगती है।

बिस्तर पर अपने फोन का प्रयोग न करें
लंबे समय तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते समय गर्दन झुकाए रखने की आदत से गर्दन की झुर्रियों की समस्या बढ़ जाएगी। छवि – एडोब स्टॉक

4. स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं

व्यायाम से लेकर स्वस्थ खान-पान तक सब कुछ अपनी दिनचर्या में शामिल करें। व्यायाम की अवधि के माध्यम से, शरीर स्वस्थ और लचीला रहता है, इस प्रकार शरीर लंबे समय तक झुर्रियों की समस्याओं से बचा रहता है। इससे आपके जीवन में बढ़ते तनाव से राहत मिलती है और आपकी त्वचा स्वस्थ रहती है।


ये भी पढ़ें- सूजन दर्द और गंभीर बीमारी का कारण बन सकती है, जानिए हर भोजन को कम सूजन वाला कैसे बनाएं

Leave a Comment