Post keratin hair loss ko kam karne ke tips. – पोस्ट केराटिन हेयर फॉल को कम करने के टिप्स।

केराटिन आपके बालों को कुछ समय के लिए सीधा और चमकदार बना सकता है, लेकिन लंबे समय में आपको इसके कई दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। सबसे आम दुष्प्रभाव बालों का झड़ना है। आजकल …

केराटिन आपके बालों को कुछ समय के लिए सीधा और चमकदार बना सकता है, लेकिन लंबे समय में आपको इसके कई दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। सबसे आम दुष्प्रभाव बालों का झड़ना है।

आजकल तरह-तरह के हेयर ट्रीटमेंट आ गए हैं। वहीं महिलाएं सीधे, चमकदार और घने बाल पाने के लिए इन ट्रीटमेंट पर हजारों रुपये खर्च करती हैं। केराटिन, स्मूथिंग और स्ट्रेटनिंग जैसे हेयर ट्रीटमेंट आजकल काफी लोकप्रिय हैं और इनकी मांग दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। हालाँकि, ये कुछ समय के लिए आपके बालों को सीधा और चमकदार बना सकते हैं, लेकिन लंबे समय में आपको कई दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। सबसे आम दुष्प्रभाव बालों का झड़ना है। आज हम पोस्ट-केराटिन बालों के झड़ने के बारे में बात करने जा रहे हैं। त्वचा विशेषज्ञ डॉ. सु, उर्फ ​​सुयोमी, केराटिन के बाद बालों के झड़ने को नियंत्रित करने के लिए कुछ शीर्ष सुझाव देते हैं। तो कृपया हमें बताएं कि इन्हें कैसे नियंत्रित किया जाए।


जानें कि केराटिन के बाद बालों के झड़ने को कैसे नियंत्रित किया जाए।

1. रोजमेरी तेल से मालिश करें

रोज़मेरी तेल की 2 से 3 बूंदों को एक चम्मच वाहक तेल, जैसे बादाम या आर्गन तेल, के साथ मिलाएं, अपने सिर पर लगाएं और अपनी उंगलियों से गोलाकार गति में अच्छी तरह से मालिश करें। इससे रक्त परिसंचरण में सुधार होता है, जिससे खोपड़ी तक पर्याप्त ऑक्सीजन और पोषक तत्व पहुंच पाते हैं। परिणामस्वरूप, बालों के रोम स्वस्थ रहते हैं और सिर की त्वचा में नमी बनी रहती है।

रोज़मेरी तेल में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट और अन्य महत्वपूर्ण गुण और पोषक तत्व स्वस्थ बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए खोपड़ी में गहराई से काम करते हैं। ये सभी कारक बालों के झड़ने को नियंत्रित करने में आपकी मदद कर सकते हैं। बालों का झड़ना कम करने के लिए तेल लगाना एक प्रभावी तरीका है और हर किसी को इसका उपयोग करना चाहिए।

प्रोटीन हड्डी और मांसपेशियों के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है।
महिलाओं के लिए, प्रोटीन शरीर में कोशिकाओं से लेकर मांसपेशियों तक विभिन्न प्रक्रियाओं के लिए आवश्यक है। छवि स्रोत: एडोब स्टॉक

2. प्रोटीन युक्त आहार

विशेषज्ञों के अनुसार, टोफू, दाल, मूंग और बीन्स जैसे प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करने से शरीर की प्रोटीन की जरूरत पूरी हो सकती है। ये स्वस्थ बालों के विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। विशेष रूप से यदि आप केराटिन और अन्य उपचारों से गुजरने के बाद बालों के झड़ने का अनुभव कर रहे हैं, तो यह आपकी समस्या को हल करने में मदद कर सकता है। वहीं, सामान्य लोगों के लिए भी पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन का सेवन करना बहुत जरूरी है। यह बालों के झड़ने को नियंत्रित करने में मदद करता है और वजन प्रबंधन में सहायता करता है। साथ ही यह शरीर को मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करता है।

यह भी पढ़ें

सूजी और कॉफी से बना यह DIY फेस मास्क आपके चेहरे को कोरियाई सौंदर्य की चमक देगा।


यह भी पढ़ें: आपके हाथों को भी मुलायम स्पर्श की ज़रूरत है, इन 4 DIY मॉइस्चराइजिंग हैंड मास्क को आज़माएं

3. गर्म करने वाले उपकरणों से पूरी तरह बचें

ब्लो ड्रायर, कर्लिंग आयरन और स्ट्रेटनर जैसे हीट स्टाइलिंग उपकरण आपके बालों को अत्यधिक सुखा सकते हैं, जिससे बाल टूट सकते हैं। इन उपकरणों के बार-बार इस्तेमाल से बाल कमजोर हो जाते हैं और बालों के झड़ने की समस्या आपको परेशान करने लगती है। स्ट्रेटनिंग, स्मूथनिंग और केराटिन उपचार के दौरान, बाल बहुत अधिक ताप प्रक्रियाओं से गुजरते हैं, इसलिए बालों को बहुत नुकसान हो सकता है। साथ ही केमिकल के इस्तेमाल से बालों को अधिक नुकसान पहुंचता है। ऐसे में केराटिन के बाद भी हीट टूल्स का इस्तेमाल करने से बालों को ज्यादा नुकसान हो सकता है।

गर्म उपकरण आपके बालों को नुकसान पहुंचाते हैं
यदि ये उपकरण गीले बालों के संपर्क में आते हैं, तो वे शुष्कता को बढ़ा सकते हैं। छवि स्रोत: एडोब स्टॉक

4. अपने आहार में इन जरूरी पोषक तत्वों को शामिल करें

आप सप्लीमेंट ले सकते हैं, जिसमें बायोटिन, आयरन, जिंक और विटामिन बी12 युक्त खाद्य पदार्थ शामिल हैं। ये कुछ ऐसे पोषक तत्व हैं जो बालों के स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। आपके शरीर में इन पदार्थों की सही मात्रा होने से आपके सिर और बालों के स्वास्थ्य को बनाए रखा जा सकता है। साथ ही बालों का झड़ना या पतला होना जैसी समस्याएं भी नहीं होती हैं।

5. गीले बालों में कंघी और कंघी न करें

सूखे बालों में कंघी करने की तुलना में गीले बालों में ब्रश करने से बाल टूटने की संभावना अधिक होती है। गीले बालों में मौजूद प्रोटीन कमजोर बंधन बनाते हैं। वहीं, केराटिन ट्रीटमेंट के बाद बाल पहले से ज्यादा नाजुक हो जाएंगे। ऐसे में जब आप गीले बालों में कंघी करेंगे तो ये ज्यादा आसानी से टूटेंगे। इसलिए, बालों के झड़ने को नियंत्रित करने के लिए कंघी करने से पहले अपने बालों को पूरी तरह सूखने दें।

यह भी पढ़ें: अगर आप अपने खास दिन पर चमक पाना चाहती हैं तो इन प्राकृतिक जड़ी-बूटियों को चेहरे के भाप वाले पानी में मिलाएं।

Leave a Comment