Posture ko behtar banane waali exercise,- पोश्चर को बेहतर बनाने वाली एक्सरसाइज़

स्वस्थ और सक्रिय रहने के लिए आपको व्यायाम को अपने दैनिक जीवन में शामिल करना चाहिए। नतीजतन, मांसपेशियां खिंचने लगती हैं। जानें कि शारीरिक मुद्रा को सही करने के लिए आपको अपनी दिनचर्या में कौन …

स्वस्थ और सक्रिय रहने के लिए आपको व्यायाम को अपने दैनिक जीवन में शामिल करना चाहिए। नतीजतन, मांसपेशियां खिंचने लगती हैं। जानें कि शारीरिक मुद्रा को सही करने के लिए आपको अपनी दिनचर्या में कौन से व्यायाम शामिल करने चाहिए (4 एक्सरसाइज टू करेक्ट बैड पॉश्चर)।

दिन भर काम के दौरान घंटों कुर्सी पर बैठे रहने से शरीर स्थिर होने लगता है और शारीरिक मुद्रा बदलने लगती है। कंधे धीरे-धीरे आगे की ओर झुकने लगते हैं। इसके अलावा शरीर को रोजमर्रा के काम करने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। दरअसल, मांसपेशियों में अकड़न और शारीरिक मुद्रा में बदलाव को ऐंठन और दर्द का कारण माना गया है। स्वस्थ और सक्रिय रहने के लिए आपको व्यायाम को अपने दैनिक जीवन में शामिल करना चाहिए। नतीजतन, मांसपेशियां खिंचने लगती हैं। जानें कि शारीरिक मुद्रा को सही करने के लिए आपको अपनी दिनचर्या में कौन से व्यायाम शामिल करने चाहिए (4 एक्सरसाइज टू करेक्ट बैड पॉश्चर)।

आपके आसन को बेहतर बनाने के लिए 4 व्यायाम

1. छाती खोलने वाला

कंधे में ऐंठन के अलावा लगातार लंबे समय तक काम करने के कारण उनका शरीर भी आगे की ओर झुकने लगता है। नतीजतन, शरीर की मुद्रा ख़राब हो जाती है और शरीर को कई तरह के दर्द का सामना करना पड़ता है। इस समस्या से निपटने के लिए नियमित रूप से छाती खोलने का अभ्यास करें।

जानें कि अपनी कमर कैसे खोलें

इस एक्सरसाइज को करने के लिए चटाई पर सीधे खड़े हो जाएं और अपने पैरों के बीच दूरी बनाए रखें।

उसके बाद, अपनी बाहों को सीधा करें और अपने हाथों को एक साथ रखते हुए उन्हें अपने पीछे फैलाएं। साथ ही अपनी गर्दन को भी पीछे ले जाएं।

यह भी पढ़ें

यदि सीढ़ियाँ चढ़ते समय आपके घुटने दर्द करने लगते हैं, तो आपके घुटने के दर्द को बदतर होने से बचाने के लिए यहां 4 उपाय दिए गए हैं।

अपने हाथों को पीछे खींचें और अपने हाथों से अपनी पीठ को छुएं। इससे शरीर में बढ़ी हुई अकड़न दूर होने लगती है।

30 सेकंड से 1 मिनट तक इस क्रिया का अभ्यास करने के बाद अपने शरीर को आराम दें।

चेस्ट ओपनर आसन को बेहतर बनाने में मदद करता है
नियमित रूप से चेस्ट ओपनर्स का अभ्यास करें।चित्र: शटर स्टॉक

2. आगे की ओर मोड़ें

शरीर में ऐंठन और बढ़े हुए दर्द से राहत पाने के लिए आगे की ओर झुकने का अभ्यास करें। ऐसा करके आप अपने शरीर के पोषण में सुधार कर सकते हैं। इससे शरीर के निचले हिस्से में बढ़े हुए मांसपेशियों के संकुचन से राहत मिलती है।

जानिए इसे करने का तरीका

इसे करने के लिए सबसे पहले अपनी चटाई पर सीधे खड़े हो जाएं। अब अपने पैरों के बीच दूरी रखें।

धीरे-धीरे अपने शरीर को कमर से नीचे की ओर झुकाएं और अपने हाथों को जमीन पर रखें।

अब सीधे खड़े हो जाएं और फिर नीचे झुककर अपने हाथों को जमीन पर छू लें। साथ ही गहरी सांस लें और छोड़ें।

शारीरिक मुद्रा में बदलाव लाने के लिए इस प्रक्रिया को 8 से 10 बार दोहराएं।

3. ऊँचा तख्ता

हाई प्लैंक आपके हैमस्ट्रिंग, कंधों और ग्लूट्स को मजबूत बनाने के लिए एक बढ़िया विकल्प है। इसकी मदद से शरीर में बढ़ती अकड़न दूर होने लगती है, शरीर में रक्त संचार सामान्य रहता है। इसे नियमित रूप से करने से मांसपेशियों का लचीलापन बढ़ सकता है।

जानिए इसे करने का तरीका

इसे करने के लिए एक चटाई पर घुटनों को मोड़कर बैठ जाएं, फिर अपनी कमर को ऊपर उठाएं और अपने हाथों को जमीन पर रखें।

इसे पकड़ें और म्याऊं-म्याऊं की मुद्रा में आ जाएं। अब अपने पैरों को पीछे और पंजों पर रखकर खड़े हो जाएं। इस दौरान गहरी सांस लें और छोड़ें।

प्लैंक के दौरान आपके शरीर का पूरा भार आपके कंधों पर पड़ने लगता है। इससे शरीर की गतिशीलता बनी रहती है।

ग्लूट ब्रिज के फायदे
इस व्यायाम का नियमित रूप से अभ्यास करने से आपकी ग्लूटल मांसपेशियां मजबूत हो सकती हैं और पीठ के निचले हिस्से में दर्द भी कम हो सकता है। छवि स्रोत: शटरस्टॉक

4. ग्लूट ब्रिज

इस व्यायाम के नियमित अभ्यास से आपकी ग्लूटल मांसपेशियां मजबूत हो सकती हैं और पीठ के निचले हिस्से में दर्द भी कम हो सकता है। पेल्विक और कूल्हे की मांसपेशियां मजबूत होने से शरीर स्वस्थ रहता है।

जानिए इसे करने का तरीका

इस एक्सरसाइज को करने के लिए चटाई पर पीठ के बल सीधे लेट जाएं।

फिर अपने घुटनों को मोड़ लें। अब अपनी भुजाओं को सीधा रखें और जमीन पर रखें।

अब धीरे-धीरे अपनी कमर को ऊपर की ओर उठाएं और अपने पैरों को जमीन पर रखें।

इससे शरीर का पॉश्चर बेहतर होने लगता है। गहरी सांस लें, इसे एक पल के लिए रोकें और फिर छोड़ दें।

अपने शरीर की ताकत के आधार पर इस आसन को 30 सेकंड से 1 मिनट तक करें।

ये भी पढ़ें- यदि सीढ़ियाँ चढ़ते समय आपके घुटने दर्द करने लगते हैं, तो आपके घुटने के दर्द को बदतर होने से बचाने के लिए यहां 4 उपाय दिए गए हैं।

Leave a Comment